ब्लॉगर्स मीट वीकली (22) Ramayana

Posted on
  • Monday, December 19, 2011
  • by
  • Prerna Argal
  • in
  • Labels: ,
  •                                                 

                                     ब्लॉगर्स मीट वीकली (22)
    सबसे पहले मेरे सारे ब्लॉगर साथियों को प्रेरणा अर्गल का प्रणाम और सलाम /आप  सभी का स्वागत करती हूँ /और निवेदन करती हूँ की इस मंच पर पधारें और अपने अनमोल सन्देश देकर हमारा उत्साह  बढायें /आभार 

    आज सबसे पहले मंच की पोस्ट्स 

     अनवर जमाल जी की रचनाएँ 

    अख्तर  खान  "अकेला जी "   की रचनाएँ

    अयाज अहमद जी की रचना 

    मंच के बाहर की पोस्ट   

    रत्नेश कुमार मौर्याजी की रचना चर्चित ब्लागर आकांक्षा यादव को ‘डा. अम्बेडकर फेलोशिप राष्ट्रीय सम्मान-2011


    अशोक कुमार शुक्ल जी की रचना 


     तय तो यह था... विनम्र श्रद्वांजलि

    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक' जी की रचना 
    "नारी की व्यथा "

    राजेश कुमारीजी की रचना 
     पर का बोझ


    नीरज द्विवेदी जी की रचना 
     अब उठो भारत
     
    मोनिका शर्माजी की रचना 
    धन-बल को मिलने वाला मान है भ्रष्टाचार की जड़ .... !

    ऍन .बी .नजील जी की रचना 
    या खुदा! बस उनको अदा बख्श दे|

     पी.सी.गोदियाल "परचेत" जी की रचना 

    वाट जोहता हूँ नई भोर की !

    मुकेश कुमार तिवारीजी की रचना 
     कुछ रिश्तों के बहाने से
     मेरा फोटो
     ऋता शेखर 'मधु' जी देवानंदजी को अनोखे ढंग से श्रद्धांजलि दे रही हैं 

    खोया खोया चाँद- हाइगा में

    फ़िल्म-जगत के सदाबहार हीरो 'देव आनंद' जी को विनम्र श्रद्धांजलि

    संगीता स्वरुपजी की रचना 
    रतन सिंह शेखावतजी की रचना 
    हमारी भूलें : आहार व्यवहार की अपवित्रता - १
    समीर  लाल "  समीरजी "  की रचना 

    पत्थर दिल इंसान..

    .StonesThrow (1).

    सुरेश शर्माजी " कार्टूनिस्ट" 

    हाजिर जवाब ...

    कुवर कुशुमेश्जी की रचना 

    प्रशासन के जूता तले दब चला है पूरा देश,
    लूट रहें ये ब्यूरोक्रेट्स भ़ी धर रक्षक क़ा भेष |
    धर रक्षक क़ा भेष, नेताओं की मिली-भगत से,
    देश को भ़ी किए बदनाम खूब सारे जगत से |
    कह 'मोमिन' देशवासी अब तो अलख जगाओ,
    भ्रष्टाचार के इन लफंगों को उठ - मार भगाओ |

    कुमार राधारमण जी 

    संजीवनी बूटी है गेहूं का जवारा

    गेहूँ के जवारों में रोग निरोधक व रोग निवारक शक्ति पाई जाती है। कई आहार शास्त्री इसे रक्त बनाने वाला प्राकृतिक परमाणु कहते हैं। गेहूँ के जवारों की प्रकृति क्षारीय होती है, इसीलिए ये पाचन संस्थान व रक्त द्वारा आसानी से अधिशोषित हो जाते हैं। ... इसका नियमित सेवन करने से शरीर में थकान तो आती ही नहीं है।

    जानिए ‘अल्लाहु अकबर‘ का अर्थ 

    स्वामी लक्ष्मीशंकराचार्य जी ने बताया है कि क़ुरआन में जिहाद की हक़ीक़त क्या है और उनका आदेश किन आयतों में है और उन आयतों का संदर्भ-प्रसंग और अर्थ क्या है ?

    Al-Risala Forum International

    image





    किसी भी विद्वान और विशेषकर वकील को अपने किसी भी मामले में सफल होने के लिए उसे अपने लक्ष्य को नही भूलना चाहिए। सबसे अच्छा रास्ता वही होता है, जिससे लक्ष्य तक पहुंचा जा सके। किसी भी रमणीय सुन्दर रास्ते को अच्छा नही कहा जा सकता यदि वह लक्ष्य तक नही पहुंचाता है।
    साधना  वैद जी 

    सपने



    रफ्ता-रफ्ता सारे सपने पलकों पर ही सो गये ,
    कुछ टूटे कुछ आँसू बन कर ग़म का दरिया हो गये !
     
     "उच्चारण भी थम जाता है" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

    रिश्तों-नातों को ठुकरा कर,
    पंछी इक दिन उड़ जाता है।।
    जब धड़कन रुकने लगती है,
    उच्चारण भी थम जाता है।।
    इस्लाम धर्म पर वीडियो 

    Shankaracharya speaks about इस्लाम

    मनोज कुमार जी बता रहे हैं कि

    सूफ़ियों ने विश्व-प्रेम का पाठ पढ़ाया अंक-१

    images (69)भक्ति और प्रेम की भावना पर आधारित जिस पंथ ने इसलाम धर्म में लोकप्रियता प्राप्त की उसे सूफ़ी पंथ कहते हैं। सूफ़ी संप्रदाय का उदय इसलाम के उदय के साथ ही हुआ, किन्तु एक आन्दोलन के रूप में इसलाम की नीतिगत ढांचे के तहत इसे मध्य काल में बहुत लोकप्रियता मिली। 
    ...वह व्यक्ति जो प्रेम के वास्ते मुसफ़्फ़ा होता है साफ़ी है और जो व्यक्ति ईश्वर के प्रेम में डूबा हो, वही सूफ़ी होता है।

    13 comments:

    आशा said...

    लिंक्स और प्रस्तुति का ढंग दोनो ही मन को छू गए |
    आपकी जितनी सराहना की जाए कम है |
    आशा

    Rajesh Kumari said...

    sarahniye prastuti shubhkamnayen.

    डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

    पहला ऐतराज तो यह है कि डॉ.रूपशंकर शास्त्री जी की रचना नारी की व्यथा नहीं है।
    अगर नाम् लिखनें में आपसे त्रुटि हुई है तो उसे सुधार दीजिेए।
    मैंने लगातार 20 ब्लॉगर मीट में यहाँ सदारत की है मगर आश्चर्य है कि आयोजक मेरा सही नाम लिखना ही भूल गये हैं।
    नारी की व्यथा का लिंक लगाया इसके लिेए आभार।

    Sadhana Vaid said...

    इतने सुन्दर आयोजन के लिये आपका बहुत बहुत आभार प्रेरणा जी एवं श्री अनवर जमाल जी ! मेरी रचना को इसमें स्थान दिया आपकी आभारी हूँ ! सभी लिंक्स बेहतरीन हैं !

    संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

    सराहनीय प्रयास

    Kunwar Kusumesh said...

    सुन्दर लिंक्स.
    मुझे स्थान दिया,आभारी हूँ.

    ऋता शेखर 'मधु' said...

    इतने सुन्दर लिंक्स के संयोजन और आयोजन में मेरी रचना को स्थान देने के लिए हार्दिक आभार|

    DR. ANWER JAMAL said...

    @ आदरणीय रूपचंद शास्त्री जी ! आप आज भी यहां बुलंद हैसियत रखते हैं।
    हम प्रेरणा जी के चयनित लिंक को खोलकर नहीं देखते कि उन्होंने किस का लेख लिया है ?
    जब हमने आपका नाम न देखा तो हमने ख़ुद नीचे आपकी रचना लगाई लेकिन आपकी टिप्पणी के बाद पता चला कि आपकी रचना ऊपर भी है लेकिन नाम सही टाइप नहीं किया गया।
    प्रेरणा जी गूगल टूल की मदद से टाइप करती हैं।
    इस बार हमारा नेट बहुत प्रॉब्लम कर रहा था और मॉनीटर भी। सो कल एक एलईडी मॉनीटर कल मंगाया।
    आज सुबह नेट ने कुछ मेहरबानी की तो मनोज जी का लिंक भी जोड़ दिया और आपका नाम भी दुरूस्त कर दिया।
    आपने इस तरफ़ तवज्जो दिलाई इसके लिए आपका शुक्रिया।

    @@ सभी सहयोगी हिंदी ब्लॉगर्स का शुक्रिया !

    Dr. Ayaz Ahmad said...

    sunder parastuti

    N.B. Nazeel said...

    बहुत बढ़िया लिंक्स हैं ......आपका तहे-दिल से आभार जो मेरी रचना को स्थान दिया ..

    डॉ॰ मोनिका शर्मा said...

    Bahut Achche Links.... Shamil karne ka abhar

    Mahesh Barmate said...

    bahut achche links hain...

    kaash mera bhi link yaad hota aapko...

    सुरेश शर्मा . कार्टूनिस्ट said...

    सुन्दर आयोजन ! सभी सहयोगी हिंदी ब्लॉगर्स का शुक्रिया !

    Read Qur'an in Hindi

    Read Qur'an in Hindi
    Translation

    Followers

    Wievers

    Gadget

    This content is not yet available over encrypted connections.

    गर्मियों की छुट्टियां

    अनवर भाई आपकी गर्मियों की छुट्टियों की दास्तान पढ़ कर हमें आपकी किस्मत से रश्क हो रहा है...ऐसे बचपन का सपना तो हर बच्चा देखता है लेकिन उसके सच होने का नसीब आप जैसे किसी किसी को ही होता है...बहुत दिलचस्प वाकये बयां किये हैं आपने...मजा आ गया. - नीरज गोस्वामी

    Check Page Rank of your blog

    This page rank checking tool is powered by Page Rank Checker service

    Hindu Rituals and Practices

    Technical Help

    • - कहीं भी अपनी भाषा में टंकण (Typing) करें - Google Input Toolsप्रयोगकर्ता को मात्र अंग्रेजी वर्णों में लिखना है जिसप्रकार से वह शब्द बोला जाता है और गूगल इन...
      5 years ago

    हिन्दी लिखने के लिए

    Transliteration by Microsoft

    Host

    Host
    Prerna Argal, Host : Bloggers' Meet Weekly, प्रत्येक सोमवार
    Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

    Popular Posts Weekly

    Popular Posts

    हिंदी ब्लॉगिंग गाइड Hindi Blogging Guide

    हिंदी ब्लॉगिंग गाइड Hindi Blogging Guide
    नए ब्लॉगर मैदान में आएंगे तो हिंदी ब्लॉगिंग को एक नई ऊर्जा मिलेगी।
    Powered by Blogger.
     
    Copyright (c) 2010 प्यारी माँ. All rights reserved.