ब्लॉगर्स मीट वीकली (3) Happy Friendship Day

Posted on
  • Monday, August 8, 2011
  • by
  • DR. ANWER JAMAL
  • in
  • Labels: ,
  • 'ब्लॉगर्स मीट वीकली' की तीसरी महफ़िल में 

    आज सबसे पहले इन रंग बिरंगे और ख़ूबसूरत फूलों की माला से हम स्वागत करते हैं 
    अपने सभापति आदरणीय श्री रूपचंद शास्त्री मयंक जी का 

    और फिर आप सभी को फ़्रेंडशिप डे पर शुभकामनाएं देते हैं और प्रार्थना करते हैं कि जिनके पास अच्छे दोस्त हैं , उनकी दोस्ती आजीवन बनी रहे और जो बिना दोस्त के ज़िंदगी गुज़ार रहे हैं , उन्हें अच्छे दोस्त मिल जाएं।

    आदरणीय शास्त्री जी ने अपनी एक रचना में दोस्ती के बारे में कुछ इस तरह कहा है 

    "दिल से दिल मिल जाने पर" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक")

    अन्जाने अपने हो जाते,
    दिल से दिल मिल जाने पर।
    सच्चे सब सपने हो जाते,
    दिवस सुहाने आने पर।।

    सूरज की क्या बात कहें,
    चन्दा भी आग उगलता है,
    साथ छोड़ जाती परछाई,
    गर्दिश के दिन आने पर।

    दूर-दूर से अच्छे लगते
    वन-पर्वत, बहती नदियाँ,
    कष्टों का अन्दाज़ा होता,
    बाशिन्दे बन जाने पर।

    पानी से पानी की समता,
    कीचड़ दाग लगाती है,
    साज और संगीत बताता,
    सुर को ग़लत लगाने पर।

    हर पत्थर हीरा नहीं होता,
    ध्यान हमेशा ये रखना,
    सोच-समझकर निर्णय लेना,
    रत्नों को अपनाने में।

    जो सुख-दुख में सहभागी हों,
    वो मिलते हैं किस्मत से,
    स्वर्ग, नर्क सा लगने लगता,
    मन का मीत न पाने पर।

    सच्चे सब सपने हो जाते,
    दिवस सुहाने आने पर।।

    यह गीत सचमुच एक मनभावन और सदाबहार गीत है .

    इसके बाद हम उन सभी नए पुराने स्टार ब्लॉगर्स का स्वागत करते हैं जिनके लेख के शीर्षक या लिंक यहां मौजूद हैं और उनका भी जिनके कि यहां आज मौजूद नहीं हैं। जिनके लिंक आज यहां मौजूद नहीं हैं , आने वाले समय में उनके लिंक भी यहां उपलब्ध कराए जाएंगे। इसके लिए हमें आप सभी के सहयोग की भी ज़रूरत है। आप ब्लॉग परिवार के इस साप्ताहिक समारोह में अपने या अपने प्रिय ब्लॉगर्स के लिंक भेज सकते हैं। इस तरह जिन ब्लॉग्स तक हम नहीं पहुंच सकते , आपके सहयोग से उनके लिंक यहां सबको सुलभ हो जाएंगे और अच्छे विचारों का लाभ सबको पहुंचेगा।
    आज की महफ़िल में सबसे पहले ‘हिंदी ब्लॉगर्स फ़ोरम इंटरनेशनल‘ के गौरवशाली मंच पर पेश होने वाले लेखों के शीर्षक और लिंक आपकी भेंट किए जा रहे हैं :

    सामाजिक सुधार का द्वार आत्मिक सुधार ही है

     यह मानना है डा. अनवर जमाल जी का 

    अच्छी टिप्पणियाँ ही ला सकती हैं प्यार की बहार Hindi Blogging Guide (22) कुंवर कुसुमेश जी  और  डॉ.अनवर जमाल जी बता रहे हैं :‘औरत हया है और हया ही सिखाती है ', ‘स्लट वॉक‘ के संदर्भ 



    टिप्पणी देते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए ? Hindi Blogging Guide (23) -श्री रूपचंद शास्त्री जी

    एक नारी के रूप अनेक - ईं.प्रदीप कुमार साहनी



         हाइकु गीत ----- दिलबागविर्क 

    मुस्कुरा दिया करना ई.प्रदीप साहनीजी 
       
    क्रिकेट की बदतमीजी के बारे में महेंद्र श्रीवास्तव जी के विचार 

    ये हैं क्रिकेट के बद्तमीज़


    राष्ट्र गान--किसकी जय गाथा  

     साधना वैदजी बता रही हैं

    मेरे दिल तू आज फ़िर मुस्कुरा ले

    हिंदी ब्लॉगिंग में आना ऐसा लगता है जैसे कि देना ज़्यादा और पाना कम।


    रामेश्वर काम्बोज 

    पूरी फिर भी अधूरी मीनाक्षी  पंतजी -

    कुंवर कुसुमेश जी
    बड़ा कौन  ?- शब्द, प्रतीक या मौन  Dr.J.P.Tiwari

    http://meghnet.blogspot.com/2011/08/blog-post.html भारत  भूषण जी 
    अब अंत में आज दोस्ती के दिन मेरी रचना --दोस्ती
    "happy friendship day"

    प्रेरणा अर्गल 

    ---------------------------------- 

    शुक्रिया प्रेरणा जी , इतनी मेहनत के लिए और इतने सारे लिंक्स देने के लिए .


    सुनीता शानू जी की चर्चा के ज़रिये कुछ बेहतरीन पढ़ने को मिला

     तो जनाब एस. एम. मासूम साहब ने भी ‘मेंढकों की टर्र टर्र‘ को ख़ूब एंज्वाय किया।


    वंदना जी की दो रचनाएं पढ़ीं और उनमें निराशा और अवसाद को देखकर हमने भी दो रचनाओं के माध्यम से उन्हें तसल्ली दी :
    (2) मैं सुन रहा हूं चीत्कार चिताओं का The Burning Soul
    बचपन में इस तरह के झमेले जान को नहीं लगे होते और 
    गर्मियों की छुट्टियों में तो हमने खूब मज़े किये हैं .

    क्या सोच रहे हैं दोनों ? , फोटो पर क्लिक करके देख लीजिये

     पेश है एक नया ब्लॉग

    Short Stories in Hindi

    हिंदी अंतर्जाल पत्रिकाओं की सूची

     क्या सचमुच हिंदी ब्लॉगर्स को जोड़ पाने में कामयाब रहेगी


    ब्लॉगर्स मीट वीकली ? 

    -डा. अयाज़ अहमद कर रहे हैं यह  विचार

    श्रृद्धा जैन की भीगी ग़ज़लें 

     वो जाने किस पल सोती है ? No Sleep

    एक माँ अपने बच्चे के लिए क्या कुछ और कैसे करती है  ?

    यही सब जानिये दिगंबर नासवा जी के शब्दों में

    "तुम और बहुत सारे तुम"

     -मृदुला हर्षवर्धन जी 

    लोहे के पेड़ हरे होंगे … रामधारी सिंह “ दिनकर “

    -मनोज कुमार जी  

    मेरे भाई गुस्सा मत करना.

     -

    नवीन चतुर्वेदी की एक ग़ज़ल
    http://aajkeeghazal.blogspot.com/2011/08/blog-post.html

    साहित्यिक हिन्दी ऑडियो बुक का हिस्सा बनिए

     गुरु पूर्णिमा पर विश्व के समस्त गुरुओं द्वारा दान की घोषणा

    -छम्मक छल्लो  (विभा रानी)


    मैं तो रामदेव दीवानी (व्यंग्य)

    -राखी सावंत  , पेशकश : सुनील यादव 

    हब्बल अंतरिक्ष वेधशाला चित्र कैसे लेती है?

    -आशीष श्रीवास्तव 

    एक पानी पूरी बेचने वाला पानी पूरी के मसाले में अपना मूत्र मिलाते पकड़ा गया

    -

    क़ब्ज़ कब्ज दूर करें योग से 

    -कुमार राधारमण जी  

    आज भी गांवों में छूआ-छूत हावी

    -राजकुमार ग्वालानी 

     क्या हमने कोई पाप किये हैं ?

    -शंकर फुलारा 

    हम ऐसे क्यों है .... 

    -सुनील कुमार जी  

    मैं जानता हूँ ........ 

    -अख्तर खान अकेला साहब  

    शातिर अपराधियों को संसद और विधानसभा में नहीं घुसने देंगे 

     -शेष नारायण सिंह 
    ----------------------------------------
     संस्कृत के जाने-माने विद्वान डॉ. हनीफ शास्त्री

    ---------------------------------------

    आपका हर बोल हमारे लिए अनमोल Vijay The Victory

    Vijay Kumar Sappatti

    अनवर भाई ,

    आपके इस लेख ने मानो नए प्राण फूँक दिए हिंदी ब्लॉग्गिंग में . मैं अपने links दे रहा हूं , आप इन्हें अपनी चर्चा में स्थान दीजिये और  मुझे जरुर सूचित कीजिये ताकि मैं इस बात को अपनी और हिंदी मित्रो तक पहुंचा सकूँ.

    मेरे links है :

    १. फूल , चाय और बारिश का पानी : http://poemsofvijay.blogspot.com/2011/07/blog-post_22.html
    २. मां : http://spiritualityofsoul.blogspot.com/2011/07/blog-post_28.html
    ३. चुटकुले : http://jokesandcomedylife.blogspot.com/2011/02/blog-post_1867.html
    ४. कृष्ण और मीरा : http://artofvijay.blogspot.com/2010/12/krishna-meera.html
    ५. चिम्पू और मिन्नी : http://comicsofindia.blogspot.com/2010/12/blog-post.html
    ६. ताजमहल : http://photographyofvijay.blogspot.com/2011/06/tajmahal-expression-of-love.html
    ७. शिर्डी साईबाबा लाइव दर्शन : http://shrisaibabaofshirdi.blogspot.com/2011/07/saibaba-temple-live-darshan.html
    ८. everyday is a new day : http://hrudayam-theinnerjourney.blogspot.com/2011/05/everyday-is-new-day.html
    ९. just for you : http://frozenmomentsoflifetime.blogspot.com/2011/05/just-for-you.html

    ये थोड़े ज्यादा है . आप देखकर इन्हें स्थान दे दीजिये. मेरे ख्याल में सभी ही अच्छे  links है .
    आपका
    विजय कुमार
    हैदराबाद
    09849746500 

    --------------
    विजय जी ! यह क्या कह दिया आपने की ये ज़्यादा है ?
    आप हज़ार भेजिए , सब लगाए जायेंगे . 
    हिंदी की खिदमत में लिखा गया आपका हर बोल हमारे लिए  है अनमोल .

    इतने सुन्दर लिंक्स भेजने के लिए शुक्रिया .
    ---------------------------------------------


    कृपया मेरा ब्लॉग भी शामिल करने का कष्ट करें
    डॉ. वेद व्यथित
    http://sahityasrajakved.blogspot.com/
    --------------------------------
    जमाल जी नमस्कार आपका सन्देश मिला
    मैं अपने ब्लाग का पोस्टो का लिंक दे रहा हूँ
    http://neelkamalkosir.blogspot.com/
    -------------------------------
    मेरे ब्लॉग से लिंक

    देल्ही बेली की कॉपी - पेस्ट नहीं है युवा पीढ़ी:- 

    http://ourdharohar.blogspot.com/2011/08/blog-post.html

    साभार
    अभिषेक मिश्र
    -------------------------------
    ब्लॉग: सान्निध्य
    भेजें: सखा बत्तीसी
    लिंक: http://saannidhya.blogspot.com/2011/08/blog-post_07.html
    ------------------------------

    अनवर जी !  
    आज मैं हिंदी ब्लॉग्गिंग गाइड के प्रचार के लिए लिखे गए अपने सारे लेखों की जानकारी आपसे साझा कर रहा हूँ, जिसमे आप पाएंगे - लिंक उन लेखों के जो हिंदी ब्लॉग्गिंग गाइड के लिए लिखे गए हैं, और एक संक्षिप्त परिचय उन लेखों के लेखकों का... 
    1. जानें हिंदी ब्लॉग्गिंग गाइड के मूल विषय, हिंदी ब्लॉग्गिंग गाइड की रूप रेखा में... 
    2. हिंदी ब्लॉग्गिंग गाइड : मेरी नज़र से - 
      1. अध्याय एक - http://meri-mahfil.blogspot.com/2011/07/blog-post_04.html
      2. अध्याय दो - http://meri-mahfil.blogspot.com/2011/07/blog-post_06.html
      3. अध्याय तीन - http://meri-mahfil.blogspot.com/2011/07/blog-post_09.html
      4. अध्याय चार - http://meri-mahfil.blogspot.com/2011/07/blog-post_11.html
      5. अध्याय पाँच - http://meri-mahfil.blogspot.com/2011/07/3.html
      6. अध्याय छः - http://meri-mahfil.blogspot.com/2011/07/4.html
      7. अध्याय सात - http://meri-mahfil.blogspot.com/2011/08/5.html
    अगली मीटिंग तक मैं बहुत सारे नए - पुराने लिंक के साथ फिर हाज़िर होने की कोशिश करूँगा. 

    - महेश बारमाटे "माही"
    ---------------------------------


    आपके आदेशानुसार अपनी हाल की रचनाओं का नाम और लिंक आपको भेज रहा हूँ |








    ब्लॉग- मेरी कविता
    --------------------------------
    आपके ब्लॉग के लिए मेरी पोस्ट की लिंक :


    अभिषेक मिश्र
    ------------------------------
    दोस्तो , रमज़ान की रात है और दोस्ती की बात है। अभी भी बहुत से ऐसे ब्लॉगर्स रह गए हैं जिन्हें हम यहां आज पेश नहीं कर पाए हैं। हम चाहते हैं कि सभी हिंदी ब्लॉगर्स के सप्ताह भर के लिंक्स यहां पेश किए जाएं। इस विषय में आप सभी लोग हमारी मदद कर सकते हैं और वह ऐसे कि आप अपनी पोस्ट्स के साथ अपने पसंदीदा ब्लॉगर्स की पोस्ट्स के शीर्षक और लिंक बनाकर और अपनी मर्ज़ी से उन्हें सजाकर भेज दीजिए। उन्हें हम आपके नाम से ही पेश करेंगे ‘ब्लॉगर्स मीट वीकली‘ में।
    अगर आप अपने ब्लॉग पर हिंदी ब्लॉगर्स फ़ोरम इंटरनेशनल का लिंक लगाते हैं तो आपका लिंक भी इस मंच पर लगा दिया जाएगा जिससे इस मंच पर आने वाले असंख्य पाठकों के लिए आपके ब्लॉग पर पहुंचना संभव हो जाएगा और आपके ब्लॉग पर आने वाले पाठक हिंदी की सेवा में रत इस ब्लॉग पर आ सकेंगे।
    ब्लॉगर्स मीट वीकली की सफलता यह है कि यह बिखरे हुए मशहूर और गुमनाम ब्लॉगर्स को एक जगह जोड़ देती है। इस कोण से यह अपने पहले दिन से ही सफल है और अब बात यह है कि जैसे जैसे कारवां आगे बढ़ेगा तो क़दम दर क़दम दूसरी सफलताएं भी मिलेंगी ही, इंशा अल्लाह !
    यह एक अभिनव प्रयोग है और जल्दी ही आप देखेंगे कि बहुत से हिंदी ब्लॉगर्स इस सफलता को अपने अपने ब्लॉग पर दोहराएंगे। यह भी ब्लॉगर्स मीट वीकली की सद्प्रेरणा के कारण ही होगा।
    वैदिक साहित्य में बहुत साफ़ साफ़ कहा गया है कि हर ओर से आने वाले शुभ विचारों को हम ग्रहण करें।
    यह विचार आदिकाल की तरह ही आज भी प्रासंगिक है।
    अच्छी बातें हमें अच्छा ही बनाएंगी, यह निश्चित है। अच्छी बातों के सहारे जीवन को दिशा देना ही ब्लॉगर्स मीट वीकली का असली मक़सद है और ऐसा तब होगा जबकि हम जागरूक होगर अच्छी बातों को ग्रहण करें और इंसानियत को शर्मिंदा करने वाली बातों का परित्याग करें।
    अनवर जमाल


    अंत में एक बार फिर हम अपने सभापति महोदय के और आप सभी हिंदी सेवियों के दिल से शुक्रगुज़ार हैं।
    सभी बहन भाईयों को अनवर जमाल का सलाम और ओउम् शांति !

    शुभ रात्रि अर्थात शब्बख़ैर !!
     चलते चलते... अख़तर ख़ान अकेला जी चाहते हैं कि 
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     


    आमीन !!!

    43 comments:

    Dr. Ayaz Ahmad said...

    रमज़ान की शब है हम भी जाग रहे हैं और आप भी। आपका लिंक मिला और हम आ गए। आपके लिंक और आपकी मुहब्बत भरी यह महफ़िल दिल को भा गई है। इस बारे में हमने अपने ब्लॉग पर एक पोस्ट भी बना दी है और आपकी सलाह के मुताबिक़ हम अब सक्रिय हो गए हैं हालांकि आप जितने तो नहीं हो पाएंगे लेकिन जितना भी हो सकेगा आपका साथ ज़रूर देंगे।

    शुक्रिया !

    http://drayazahmad.blogspot.com/2011/08/blog-post_8214.html

    Rajesh Kumari said...

    Anvar ji aapko va sabhi ko mitrta divas ki shubhkamnaayen.vese to sachche doston ka har din hi mitrta divas hota hai.yahan aakar kafi links ki jaankari mili.ab aati rahungi.

    एस.एम.मासूम said...

    अच्छी चर्चा चल रही है. बेहतरीन लिंक्स शामिल हैं.

    devendra gautam said...

    कारवां बढ़ता जा रहा है. यह देखकर ख़ुशी हो रही है. हर ब्लॉग पर किसी के लिए रोज जाना संभव नहीं हो पाता. सप्ताह में एक बार यदि सारे लिंक्स एक जगह मिल जायें तो इससे अच्छी बात क्या हो सकती है. यह परिकल्पना चाहे जिसकी हो लेकिन हिंदी ब्लॉगिंग के इतिहास में मील का पत्थर साबित होने जा रही है. मेरा आग्रह होगा कि इस मंच की एक तकनीकी सेल बनायीं जाये जहां नए-पुराने ब्लॉगर्स को तकनीकी परामर्श मिल सके.

    DR. ANWER JAMAL said...

    @ डा. अयाज़ साहब ! आपने हमारी बार बार की पुकार पर तवज्जो दी , आपका शुक्रिया ।

    इस मंच के दूसरे सदस्यों को भी सक्रिय हो जाना चाहिए ।

    DR. ANWER JAMAL said...

    @ जनाब मासूम साहब !

    @ राजेश कुमारी जी ! आपको हमारी कोशिश अच्छी लगी । आपका शुक्रिया !

    @ देवेन्द्र जी ! जल्दी ही आपकी सलाह के मुताबिक़ अमल होने लगेगा । हमारे पास तकनीकी सैल मौजूद है । जो ईद के बाद काम शुरू कर देगी , इंशा अल्लाह ! को हमारी कोशिश अच्छी लगी । आपका शुक्रिया !

    @ देवेन्द्र जी ! जल्दी ही आपकी सलाह के मुताबिक़ अमल होने लगेगा । हमारे पास तकनीकी सैल मौजूद है । जो ईद के बाद काम शुरू कर देगी , इंशा अल्लाह !

    शालिनी कौशिक said...

    nice .congrats.

    devendra gautam said...

    अनवर भाई
    कुछ लिंक खुल नहीं रहे हैं. इसमें मेरा लिंक भी शामिल है.

    Neelkamal Vaishnaw said...

    बेहतरीन लिंक्स शामिल हैं
    आपके लिंक और आपकी मुहब्बत भरी यह महफ़िल दिल को भा गई है !!!

    पत्रकार-अख्तर खान "अकेला" said...

    anvar bhaai aapkaa durdraaz ke sabhi blogrs bhaiyon ko aek hi maala me pirone kaa jo khubusrat kaam hai voh maashaa allaah yadgar hai or is mushkil kaam ko agar koi kar sktaa thaa to sirf voh aap hai inshaa allaah aapki kaamyaabi din duni raat choguni badhegi .....akhtar khan akela kota rajasthan

    इंजी० महेश बारमाटे "माही" said...

    अनवर जी...
    ब्लौगर्स मीट के तीसरे संस्करण के लिए आपको शुभ कामनाएँ...
    पर मेरे ब्लॉग का लिंक गलत है...
    आप खुद ही देखलें...

    जो ईमेल मैंने भेजा था वो तो बिलकुल सही है पर जो लिंक आपने अपनी ओर से दिया है इस लेख की शुरुआत मे... उसमे लिंक गलत है...

    DR. ANWER JAMAL said...

    @ देवेन्द्र जी ! आपके लिंक की रिपेयर जल्द ही कर दी जाएगी । ध्यान दिलाने के लिए शुक्रिया !

    Dr. Ashok palmist blog said...

    ब्लोगर मीट सफलतापूर्वक आगे बढ़ रहा है यह खुशी की बात है। मैँ भी अपनी
    पोस्टोँ के लिँक भेज रहा था लेकिन नेट ने काम करना बंद कर दिया। अब अगले हफ्ते अवश्य भेजूँगा । आभार अनवर भाई!

    mahendra srivastava said...

    आज के ब्लागर मीट से निराश हूं। ये उबाऊ और थका देने वाला लग रहा है। एक मित्र ने सद्भाव की बात करके पचासों लोगों के फोटो लगा दिए, मुझे इसका औचित्य समझ में नहीं आ रहा है।

    मुझे नहीं लगता कि किसी भी ब्लागर के पास इतना वक्त होगा कि वह दिए गए सभी लिंक्स पर जाए।

    मैं यहां ज्यादा बातें नहीं करना चाहता, मेल पर मैं अपने विस्तृत सुझाव दूंगा। मैं आज दिल्ली से बाहर हूं।

    prerna argal said...

    devendraji aap pareshaan mat hoiye .aapki npost ka link repaier ho jayaegaa,aur phir thik se dikhane lagegaa.

    संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

    सराहनीय प्रयास ...

    Sadhana Vaid said...

    ब्लॉगर मीट ३ में भी अपने आलेख को देख कर बहुत खुशी हो रही है ! प्रेरणा जी तथा अनवर भाई आपकी तहेदिल से शुक्रगुजार हूँ कि आप मेरी रचनाओं को इस योग्य समझते हैं कि वे इस मंच पर प्रकाशित की जा सकें ! आपका बहुत बहुत आभार एवं धन्यवाद !

    DR. ANWER JAMAL said...

    @ साधना जी ! बहनों का स्थान तो हमारी नज़र में प्रथम है.
    आप आयीं , शुक्रिया .

    अभिषेक मिश्र said...

    धन्यवाद इस प्रयास का.

    prerna argal said...

    साधनाजी अच्छे लेख और रचनाएँ सबको पढने को मिले /और सब ब्लोगर्स को एक ही मंच पर अच्छे अच्छे लिनक्स से परिचय हो यही हमारा प्रयास है /आपकी रचनाएँ होती ही इतनी अच्छी हैं की हम चाहते हैं की उसे सब से रूबरू कराएँ /आपका और सभी ब्लोगर साथियों का का धन्यवाद की आप मंच पर आये और हमारे प्रयास की सराहना की /आशा है आप सभी का सहयोग ऐसे ही हमेशा मिलता रहेगा /आभार /

    मनोज कुमार said...

    अच्छा लगा यहां आकर।

    Kunwar Kusumesh said...

    आज बहुत व्यस्त रहा,अब मौक़ा मिला है कम्प्यूटर पर बैठने का.
    बढ़िया लिंक्स दिखे यहाँ पर.
    मुझे स्थान दिया,आभार.

    prerna argal said...

    संगीताजी,मनोजजी बहुत बहुत धन्यवाद की आप इस मंच पर आये और हमारे प्रयाशों की सराहना की /आशा है आगे भी आप सबका सहयोग हमें इसी तरह मिलता रहेगा /आभार

    DR. ANWER JAMAL said...

    @ संगीता जी ! शुक्रिया .
    इस मीट में आपके लेख का लिंक भी छिपा है लेकिन आपको ढूंढना पड़ेगा .
    आप ढूंढ़ न पायें तो हम बता देंगे .
    है न एक रोचक पहेली ?

    DR. ANWER JAMAL said...

    @ महेश जी ! आपने ईमेल से लिंक हमें भेजे और हमने उन्हें ज्यों का त्यों लगा दिया है . वह ईमेल भी आपको हमने वापस भेज दी है ताकि आप देख लें कि आपसे गलती कहाँ हुई है ?
    अब आप जैसे करेक्शन करना चाहते हैं वैसे करवा सकते हैं .
    शुक्रिया .

    ZEAL said...

    thanks for providing beautiful links.
    Best wishes.

    Dilbag Virk said...

    mehnat bhara kaam
    bdhaai ho sunder links ke lie

    DR. ANWER JAMAL said...

    ब्लॉगर्स मीट वीकली की सफलता के प्रमाण
    @ महेन्द्र श्रीवास्तव जी ! निराश होने की ज़रूरत नहीं है। आज इस ब्लॉग को अभी तक 373 लोग देख चुके हैं। साइड में लगे हुए काउंटर को देखेंगे तो आप उसके ग्राफ़ को टॉप पर देखेंगे। आज की ब्लॉगर्स मीट वीकली 3 भी पिछली दोनों मीट की इस ब्लॉग की लोकप्रिय पोस्ट्स की सूची में अभी से दिखाई देने लगी है। बहुत लोग आ रहे हैं और मीट के लिंक्स को पढ़ भी रहे हैं। जब यह सब है तो निराश होने की ज़रूरत ही क्या है ?

    आप इस मीट में ज़्यादा लिंक्स देखकर कह रहे हैं कि आपको यह उबाऊ महसूस हो रहा है।

    जब बहुत से मिज़ाजों के लोगों को स्थान दिया जाएगा तो लिंक्स भी बहुत हो जाएंगे और यही सफलता है। यह लाज़िमी तो नहीं है कि अगर यहां 60 लिंक्स हैं तो हरेक आदमी उन सभी को देखे। जिस आदमी को जिस विषय में रूचि हो वह अपनी रूचि के लिंक ही देखेगा और जिस के पास जितना समय है वह उतना ही समय देगा। बिल्कुल भी कोई बाध्यता नहीं है कि एक एक लिंक हरेक आदमी चेक करे और न ही ऐसा होता है।
    डा. दिव्या जी से कुछ समय पहले हमारी खट-पट हुई थी लेकिन देखिए कि वे भी हमारी इस महफ़िल में तशरीफ़ लाई हैं। किसी तरह की शिकायत को उन्होंने आड़े नहीं आने दिया। हम दिल से उनकी सलाहियतों के पहले से ही क़द्रदान हैं और आज हमारे दिल में उनकी क़द्र में मज़ीद इज़ाफ़ा हो गया है।
    यह मीट फ़ासले घटा रही है और सभी तरह के हिंदी ब्लॉगर्स को एक मंच पर ला रही है। यह सब इसकी सफलता के प्रमाण हैं। जिन्हें देखकर तो आशा और विश्वास का संचार होना चाहिए।

    बहुत सारे फ़ोटो भी सबको आदर देने के लिए लगाए गए हैं।
    आप मंच के हित में सोचते हैं। इसके लिए हम आपके शुक्रगुज़ार हैं।
    इस मंच को बेहतर बनाने के लिए आपके सुझावों का सदा ही स्वागत है।

    शुक्रिया !

    DR. ANWER JAMAL said...

    @ राजेश कुमारी जी , जनाब एस. एम. मासूम साहब, शालिनी जी, नीलकमल वैष्णव जी, डा. अशोक कुमार जी, अभिषेक जी, दिलबाग जी

    हम आपकी आमद के लिए आपके तहे-दिल से शुक्रगुज़ार हैं कि आप इस महफ़िल की रौनक़ हैं।

    @ डा. दिव्या श्रीवास्तव जी ! हम आपके ख़ास तौर पर शुक्रगुज़ार हैं। आप गीता पढ़ती हैं और अपनी भावनाओं पर क़ाबू पाना जानती हैं। आपने आज एक आदर्श प्रस्तुत किया है कि गिले-शिकवे को भुलाकर या उसके होते हुए भी हिंदी ब्लॉगिंग की बेहतरी के लिए मिलकर प्रयास किया जा सकता है।
    जो लोग गुटबाज़ी करके हिंदी ब्लॉगिंग को पाताल में धकेल रहे हैं, उनके लिए ही नहीं बल्कि ख़ुद हमारे लिए भी आपका आना निहायत ख़ुशी का बायस है।
    हम मालिके हक़ीक़ी से आपकी और अपनी बेहतरी के लिए दुआ करते हैं कि मालिक हम सबको सीधी राह दिखा दे, उस पर चला दे और उस पर जमा दे।
    आमीन , तथास्तु !

    Bhushan said...

    अत्यंत सराहनीय प्रयास है. यहाँ से कई उपयोगी लिंक्स मिले हैं. लिंक्स के ले-आऊट (फार्मेट) को ज़रा तरतीब देनी ज़रूरी है.

    ईं.प्रदीप कुमार साहनी said...

    मेरी सभी रचनाओं को यहाँ शामिल करने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद प्रेरणा जी..
    साथ ही आज की ये मुलाकात बहुत ही अच्छी रही | बहुत सारे अच्छे लिंक मिले | जैसा की अनवर जमाल खान जी ने कहा, आज ये पहले से भी ज्यादा सफल रहा |
    सभी का आभार |

    डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

    हिन्दी ब्लॉगर्स फोरम इंटरनेशनल पर आयोजित ब्लॉगर्स मीट वीकली (3) में मैं आप सभी पाठकों का इस्तकबाल करता हूँ!
    सबसे पहले तो इस ब्लॉगर मीट को सजाने सँवारने वाले DR. ANWER JAMAL साहिब का शुक्रिया करता हूँ कि उन्होंने मुझ नाच़ीज़ को इस काबिल समझा कि मैं इसकी सदारत कर सकूँ। जबकि मैं खुद को इसके काबिल समझने में सर्वथा अयोग्य पाता हूँ! मगर इनका प्यार भरा आग्रह मैं ठुकरा न सका! क्योंकि इनके आग्रह में बहुत बल था!
    बहन प्रेरणा अर्गल का भी इस ब्लॉग को सँवारने में बहुत बड़ा योगदान है। मैं उनका भी शुक्रगुज़ार हूँ!
    मित्रों!
    आप जो पोस्टों का गुलदस्ता यहाँ पर देख रहे हैं। इसके पीछे इस ब्लॉग व्यवस्थापक की मेहनत स्पष्ट ही झलक रही है। न जाने इस शख़्श ने इसको सजाने-सँवारने में अपनी कितनी रातों की नींद कुर्बान होगी! तब कहीं जाकर इस खुश्बूदार सुमनों के पुष्पगुच्छ की महक हमारे सामने बहार बनकर आई है।
    नये पुराने सभी ब्लॉगरों की पोस्टों की चर्चा बहुत सलीके से आज की ब्लॉगर मीट में की गई है!
    मुझे आशा ही नहीं अपितु विश्वास भी है कि अपके ब्लॉगों की यहाँ पर चर्चा होने से आपके ब्लॉगों पर लोगों की आवाजाही निश्चित रूप से बढ़ेगी!
    शुभकामनाओं के साथ-
    आपका
    डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"

    शिक्षामित्र said...

    बहुत अच्छा आयोजन है। खुद को भी इसमें शरीक देख रहा हूं।

    चन्द्र भूषण मिश्र ‘ग़ाफ़िल’ said...

    सराहनीय प्रयास...आभार और बधाई

    Er. सत्यम शिवम said...

    बहुत ही सुंदर प्रस्तुतिकरण और आयोजन...सच में आनंद आ गया..अनवर जी आप बधाई के योग्य है...साथ ही मेरी शुभकामनाएँ आप सब के साथ है......धन्यवाद।

    PK Sharma said...

    bahut accha laga yahan aakr
    thanks alot of sir ji

    Archana said...

    .mujhe aapke is prayas se ek hi jagah kai link mil jayenge
    shukriya

    dr. shama khan said...

    बहुत बदिया ख्याल है, तकनिक का ज़हनी और रूहानी इस्तमाल
    किया जाएगा . dr.shama khan

    वाणी गीत said...

    एक साथ बहुत से बेहतरीन लिंक्स...
    सराहनीय प्रयास !

    Khushdeep Sehgal said...

    उपस्थित श्रीमान...

    जय हिंद...

    कुमार राधारमण said...

    आप सबके बीच स्वयं को उपस्थित पाकर गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं। सुन्दर प्रयास। जारी रहे।

    दिगम्बर नासवा said...

    बेहतरीन तरह से सजाया है इस मीट को .... बहुत से लिंक समेटे हैं ... मुकम्मल पोस्ट ..

    prerna argal said...

    आपकी पोस्ट ब्लोगर्स मीट वीकली(७) के मंच पर प्रस्तुत की गई है/आपका मंच पर स्वागत है ,आप आइये और अपने विचारों से हमें अवगत कराइये /आप हिंदी की सेवा इसी तरह करते रहें ,यही कामना है / आप हिंदी ब्लोगर्स मीट वीकलीके मंच पर सादर आमंत्रित हैं /आभार/

    Read Qur'an in Hindi

    Read Qur'an in Hindi
    Translation

    Followers

    Wievers

    Gadget

    This content is not yet available over encrypted connections.

    गर्मियों की छुट्टियां

    अनवर भाई आपकी गर्मियों की छुट्टियों की दास्तान पढ़ कर हमें आपकी किस्मत से रश्क हो रहा है...ऐसे बचपन का सपना तो हर बच्चा देखता है लेकिन उसके सच होने का नसीब आप जैसे किसी किसी को ही होता है...बहुत दिलचस्प वाकये बयां किये हैं आपने...मजा आ गया. - नीरज गोस्वामी

    Check Page Rank of your blog

    This page rank checking tool is powered by Page Rank Checker service

    Hindu Rituals and Practices

    Technical Help

    • - कहीं भी अपनी भाषा में टंकण (Typing) करें - Google Input Toolsप्रयोगकर्ता को मात्र अंग्रेजी वर्णों में लिखना है जिसप्रकार से वह शब्द बोला जाता है और गूगल इन...
      4 years ago

    हिन्दी लिखने के लिए

    Transliteration by Microsoft

    Host

    Host
    Prerna Argal, Host : Bloggers' Meet Weekly, प्रत्येक सोमवार
    Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

    Popular Posts Weekly

    Popular Posts

    हिंदी ब्लॉगिंग गाइड Hindi Blogging Guide

    हिंदी ब्लॉगिंग गाइड Hindi Blogging Guide
    नए ब्लॉगर मैदान में आएंगे तो हिंदी ब्लॉगिंग को एक नई ऊर्जा मिलेगी।
    Powered by Blogger.
     
    Copyright (c) 2010 प्यारी माँ. All rights reserved.