ब्लॉगर्स मीट वीकली (17) Happy Children's Day

Posted on
  • Monday, November 14, 2011
  • by
  • Prerna Argal
  • in
  • Labels: ,
  •  
    ब्लॉगर्स मीट वीकली (17) बाल दिवस की शुभकामनाएं
     
    सबसे पहले मेरे सभी ब्लॉगर  साथियों को प्रेरणा अर्गल का प्रणाम और सलाम /बाल दिवस के मोके पर हमें अपने बच्चों को ये शिक्षा देनी है की आने वाले समय में भारत देश भ्रष्टाचार से मुक्त हो /जिससे हमारा देश उन्नति के पथ पर अग्रसर हो /
    सबसे पहले में ब्लोगर्स मीट वीकली (१७) के मंच पर इस मंच के सभापति आ .शास्त्रीजी का अभिनन्दन करती हूँ /जिनका आशीर्वाद हमेशा इस मंच को मिलता रहे /आप सभी का भी स्वागत करती हूँ कि आप सब पधारें और अपने अनमोल विचारों से हमें कृतार्थ करें /                        
     ब्लॉगर्स मीट वीकली (17)
          आदरणीय रूपचंद शास्त्रीजी  
    आज सबसे पहले मंच की पोस्ट्स 

     अनवर जमाल जी की रचनाएँ 

      अख्तर  खान  "अकेला जी "   की रचनाएँ

    डॉ.अयाज अहमद जी की रचना 

    मंच के बाहर की पोस्ट   

     कैलाश सी.शर्मा जी की रचना 

    एक बार बचपन मिल जाये 

    अशोक कुमार शुकला जी की रचना 
    सत्यम शिवम जी की रचना 

    दिव्या जी की रचना 

    अना जी की रचना 

    जलधि विशाल

    रश्मि प्रभा जी की रचना 

    प्रदीप नील जी की रचना 


    प्रवीण पांडे जी की रचना 

    अनिता जी की रचना 
    अंजू चौधरी जी की रचना 
     
    दीनदयाल शर्मा जी की रचना 
    कविता रावत जी की रचना 

    कार्टून:- हर बात का मतलब हो, ज़रूरी तो नहीं

    काजल कुमार  



    साधना वैद जी की ताज़ा पोस्ट

    बाल दिवस --- एक चिंतन

     प्रति दिन एक करोड़ बच्चे सर पर छत के अभाव में आधा पेट खाना खाकर सड़कों पर ही रात गुजारने के लिये मजबूर होते हैं !

    मस्सों का घरेलू इलाज 

    कुमार राधा रमण जी 


    हर कोई खूबसूरत चेहरे की कामना करता है, लेकिन इस खूबसूरत चेहरे पर जब कोई दाग, मुंहासे या मस्से इत्यादि हों तो चेहरा एकदम बिगड़ सा जाता है।

    एक चाहत थी... 

    महेश बारमाटे 'माही'

    एक चाहत थी,तुमसे मिलने की...गर पूरी हो पाती तो...एक चाहत थी,तेरे संग कुछ वक़्त साथ बिताने की...गर पूरी हो पाती तो...एक चाहत थी,तेरे संग हंसने गाने की...गर पूरी हो पाती तो...एक चाहत थी... 'ब्लॉग की ख़बरें' पर 

    प्रिय प्रवीण शाह जी का एक यादगार कमेंट Eid ul azha

    ब्लॉगिंग की दुनिया में ऐसा कम ही होता है कि कोई कमेंट एक यादगार कमेंट बन जाए। इल्म ए जफर का उसूल है कि हरेक सवाल में ही उसका जवाब छिपा होता है.
    'मुशायरा' ब्लॉग पर

    जितनी बंटनी थी बंट चुकी ये ज़मीं


    जितनी बंटनी थी बंट चुकी ये ज़मीं,
    अब तो बस आसमान बाकी है |
    सर क़लम होंगे कल यहाँ उनके,
    जिनके मुंह में ज़बान बाक़ी है ||

    शिल्पा मेहता जी की एक यादगार पोस्ट
    कुर्बानी क्या होती है ?
    कुर्बानी का अर्थ 'त्याग' है . 
    यह पोस्ट कई अर्थों में एक यादगार पोस्ट है. 
    शिल्पा जी के सवालों का जवाब देती हुई एक पोस्ट  

    मानव जाति की समस्याओं का सच्चा समाधान है इस्लामी हज और क़ुरबानी Qurbani 

    हम अपने दैनिक क्रिया कलाप करते हुए ईश्वर का अनुग्रह और ईश्वर का सामीप्य पा सकते हैं बल्कि यही तरीक़ा है जो ईश्वर ने हमारे लिए अनिवार्य किया है।
    हज़रत इबराहीम अलैहिस्सलाम से पहले के और उनके बाद के नबियों ने यही बताया है।

     अंत में एक 'परिचर्चा'

    कौन कितने तत्व का बना है ?

    जब लोगों से यह कहा जाता है कि वनस्पति की तरह मवेशी पशु भी मनुष्य का जायज़ आहार हैं तो कुछ लोग यह तर्क देते हैं कि पेड़ पौधे एक तत्व के बने होते हैं।
    किसने कह दिया है कि पेड़ पौधों में एक तत्व होता है ?
    जबकि पेड़ पौधों में जल, वायु, मिट्टी, अग्नि और आकाश सभी तत्व पाए जाते हैं।

    15 comments:

    देवेन्द्र पाण्डेय said...

    बाल दिवस की शुभकामनाएं।
    बच्चों को पढ़ाई का अच्छा माहौल दें..आचरण की शिक्षा तो वही दे देंगे।
    लिंक अच्छे हैं।

    Dr. Ayaz Ahmad said...

    बहुत सारी पोस्ट के अलावा बच्चों के दिन की मुबारकबाद देते हुए।
    रंग बिरंगी पोस्ट बहुत सी जानकारी देती हैं।
    प्रेरणा जी का और सभी लेखकों का शुक्रिया।
    हमारी ढेर सारी पोस्टें भी यहां दिख रही हैं।
    एक बार फिर शुक्रिया प्रेरणा जी का।

    आशा said...

    बाल दिवस पर हार्दिक शुभ कामनाएं |बहुतसी अच्छी लिंक्स |बधाई |
    आशा

    devendra gautam said...

    बेहतरीन लिंक्स से सजा साप्ताहिक आयोजन. बधाई!

    Sadhana Vaid said...

    बाल दिवस की हार्दिक शुभकामनायें ! बहुत खूबसूरत बहुरंगी व बहुआयामी साप्ताहिक मीट ! इतनी सारी लिंक्स एक स्थान पर संकलित कर पाठकों के सामने प्रस्तुत कर देने का आपका यह श्रमसाध्य कार्य अत्यंत प्रशंसनीय है ! बधाई एवं आभार !

    Kunwar Kusumesh said...

    good links.
    चाचा नेहरु ने किया ,सब बच्चों को प्यार.
    हम सब को देकर गए,बाल दिवस त्यौहार.
    बाल-दिवस पर सभी बच्चों को बधाई,शुभकामनायें और बहुत बहुत प्यार .

    Kailash C Sharma said...

    बाल दिवस की शुभकामनायें ! सुन्दर लिंक्स..रोचक प्रस्तुति...

    मनोज कुमार said...

    विशेष अवसर को समर्पित इस चर्चा में विभिन्न विषयों का समावेश किया गया है।

    Anita said...

    आदरणीया प्रेरणा जी, बाल दिवस पर शुभकामनायें तथा बेहतरीन प्रस्तुति के लिये बहुत-बहुत बधाई!

    prerna argal said...

    बहुत बहुत धन्यवाद आप सभी का की आप सब इस मंच पर पधारे/और मेरे द्वारा चयन किये गए लिनक्स आप सबको पसंद आये /आशा है आगे भी आप सबका सहयोग इस मंच को मिलता रहेगा /आभार /

    ana said...

    sabhi rachanye padh liye....mere post ko yaha pratut kiya gaya isliye hardik dhanyavad...shubhakamnaye

    DR. ANWER JAMAL said...

    सभी हिंदी ब्लॉगर्स का आभार ,
    हिंदी ब्लॉगिंग को समृद्ध करने के लिए,
    हमारे आंदोलन को सहयोग देने के लिए
    और प्रेरणा जी का भी आभार
    इस मीट को पुरकशिश बनाने के लिए
    ...
    आदरणीय रूपचंद शास्त्री जी की सरपरस्ती के लिए हम सब उनके भी बहुत मशकूर हैं।

    प्रवीण पाण्डेय said...

    बहुत ही पठनीय सूत्र।

    इंजी० महेश बारमाटे "माही" said...

    bahut achche links hain...
    aabhaar

    anwar ji plz mera surname mat likha kariye...

    mera naam hi kaafi hai... (or waise bhi surname galat likha hai)

    डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

    ब्लॉगर्स मीट वीकली के 17वें अंक में
    सभी ब्लॉगर साथियों का स्वागत करते हुए
    अर्ज करना चाहता हूँ कि कल बालदिवस के बालमेले में मेरी दो किताबों "हँसतागाता बचपन" और "धरा के रंग का विमोचन 20 हजार लोगों के हुजूम के बीच सम्पन्न हुआ! जिसमें मैं कल काफी मशगूल रहा। क्योंकि 53 स्कूलों की खटीमा पब्लिक स्कूल एशोसियेसन का अध्यक्ष होने के नाते मुझे उसमें पूरी ड्यूटी देनी पड़ी।
    आप सबको "बाल दिवस" की बहुत बहुत शुभकामनाएँ!
    आशा करता हूँ की ब्लॉगर मीट वीकली-18 में भी बहुत अच्छे लिंक आपको पढ़ने को मिलेंगे।
    मुझे फख्र है कि ब्लॉगर मीट को इसके आयोजक बिना किसी भेद-भाव के बहुत परिश्रम से सजाते हैं।

    Read Qur'an in Hindi

    Read Qur'an in Hindi
    Translation

    Followers

    Wievers

    Gadget

    This content is not yet available over encrypted connections.

    गर्मियों की छुट्टियां

    अनवर भाई आपकी गर्मियों की छुट्टियों की दास्तान पढ़ कर हमें आपकी किस्मत से रश्क हो रहा है...ऐसे बचपन का सपना तो हर बच्चा देखता है लेकिन उसके सच होने का नसीब आप जैसे किसी किसी को ही होता है...बहुत दिलचस्प वाकये बयां किये हैं आपने...मजा आ गया. - नीरज गोस्वामी

    Check Page Rank of your blog

    This page rank checking tool is powered by Page Rank Checker service

    Hindu Rituals and Practices

    Technical Help

    • - कहीं भी अपनी भाषा में टंकण (Typing) करें - Google Input Toolsप्रयोगकर्ता को मात्र अंग्रेजी वर्णों में लिखना है जिसप्रकार से वह शब्द बोला जाता है और गूगल इन...
      4 years ago

    हिन्दी लिखने के लिए

    Transliteration by Microsoft

    Host

    Host
    Prerna Argal, Host : Bloggers' Meet Weekly, प्रत्येक सोमवार
    Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

    Popular Posts Weekly

    Popular Posts

    हिंदी ब्लॉगिंग गाइड Hindi Blogging Guide

    हिंदी ब्लॉगिंग गाइड Hindi Blogging Guide
    नए ब्लॉगर मैदान में आएंगे तो हिंदी ब्लॉगिंग को एक नई ऊर्जा मिलेगी।
    Powered by Blogger.
     
    Copyright (c) 2010 प्यारी माँ. All rights reserved.