ब्लॉगर्स मीट अब ब्लॉग पर आयोजित हुआ करेगी और वह भी वीकली Bloggers' Meet Weekly

‘हिंदी ब्लॉगर्स फ़ोरम इंटरनेशनल‘ के लेख को मात्र  5 महीनों में ही 8 हज़ार से ज़्यादा लोगों ने पढ़ा है। यह एक रिकॉर्ड सफलता है। ऐसा तब हुआ जबकि गुटबंदी और जलन की वजह से संकीर्णवृत्ति के बंधुओं ने इससे जुड़ना गवारा न किया बल्कि इससे भी आगे बढ़कर जुड़ने वाले लोगों को हतोत्साहित भी किया। ऐसे लोग सदा से ही सत्य के मार्ग में रोड़ा बने हैं और इनके ऊपर से सत्य सदा ही रोड रोलर की तरह से गुज़रा है।
आज भी ये लोग इस मंच के सकारात्मक आंदोलनों को नज़अंदाज़ करके उसे किल करने की नीति पर चल रहे हैं। ये लोग आपको मामूली चुटकुलों की पोस्ट पर ‘बेहतरीन प्रस्तुति‘ लिखते हुए मिल जाएंगे लेकिन यही दो शब्द इनमें से कोई भी ‘दुनिया की पहली हिंदी ब्लॉगिंग गाइड‘ के लिए न कह सका। अब भी ये नहीं आएंगे लेकिन इनके न आने और न सराहने से हमारा उत्साह कमज़ोर पड़ने वाला नहीं है। हमारा लक्ष्य स्पष्ट है और जितने भी साथी हैं, उतने काफ़ी हैं और असल में एक अकेला मेहरबान मालिक ही काफ़ी है अपने बंदों की मदद के लिए।
‘हिंदी ब्लॉगर्स फ़ोरम इंटरनेशनल‘ कोई साहित्यिक मंच मात्र नहीं है कि कोई आया और गाकर चला गया और कोई कहानी सुनाकर चला गया बल्कि यह एक मिशन है।
इसका मक़सद बिखरी हुई मानवता को सत्य के आधार पर एक करना है। यह एक परिवार भी है और इसे परिवार के सदस्यों की निजी समस्याओं से भी सरोकार है।
‘हिंदी ब्लॉगिंग गाइड‘ इस मंच की एक नायाब देन है। नए पुराने ब्लॉगर्स अपने अनुभव साझा कर रहे हैं। यह एक यादगार तोहफ़ा है जिसने मंच के सभी सदस्यों को एक गौरवशाली पल का साक्षी बना दिया है।
इसके सक्रिय सदस्य लगातार अपने लेखन के माध्यम से इसे समृद्ध बना रहे हैं। उनके लेखन को ‘ब्लॉग की ख़बरें‘ के माध्यम से उन लोगों तक पहुचाया जाता है जो प्रायः इस मंच तक नहीं भी आ पाते। ईमेल्स के ज़रिये उनके लेख ब्लॉगर्स के साथ साथ देश विदेश के उन सभी नेट यूज़र्स तक पहुंचाये जाते हैं जो कि ब्लॉगर नहीं हैं। वक्त और हालात ने साथ दिया तो इनकी स्मारिका भी प्रकाशित की जाएगी।
इसी क्रम में अब यह ज़रूरी हो गया है कि इस फ़ोरम की तरफ़ से एक साप्ताहिक गोष्ठी का आयोजन किया जाए जिसमें कि
1. सप्ताह में इस मंच से प्रकाशित सभी लेखों के लिंक शामिल हों।
2. सप्ताह के लोकप्रिय और सार्थक अन्य लेखों के लिंक भी सामने लाये जाएं, जिन्हें इस मंच से जुड़े सदस्यों ने अपने अपने ब्लॉग पर लिखा है।
3. मंच से अब तक न जुड़ पाए ब्लॉगर्स के अच्छे लेखों को भी चर्चा में स्थान दिया जाए।
4. इसमें नए ब्लॉग और ब्लॉगर का परिचय भी कराया जाए और किसी पुराने ब्लॉगर के किसी उल्लेखनीय योगदान, यदि किया हो और उसकी सूचना प्राप्त हो जाए तो, का परिचय और ज़िक्र भी किया जाए।
5. हिंदी के अलावा किसी अन्य भारतीय भाषा या क्षेत्रीय भाषा के किसी ब्लॉग का चर्चा करना भी यहां मना नहीं है।
6. हिंदी, अंग्रेज़ी या अन्य किसी भी भाषा की किसी वेबसाइट पर हेल्थ और पाक कला आदि से संबंधित कोई काम की जानकारी मौजूद है तो उसका चर्चा भी यहां ज़रूर किया जाए ताकि चर्चा में ताज़गी आए और हिंदी पाठकों को काम की जानकारी हाथ लगे।
7. इसके अलावा कोई ब्लॉगर बीमार हो या वह किसी समस्या से जूझ रहा हो तो उसका ज़िक्र भी किया जाए ताकि वह ख़ुद को इस दुनिया में बेसहारा और अकेला न समझे। हम चाहे उसका दुख दूर न कर सकें लेकिन उसके दुख को महसूस करने में उसका साथ ज़रूर दे सकते हैं।
(जैसे कि रश्मि प्रभा किडनी आप्रेशन के लिए आज हस्पताल में एडमिट हो चुकी होंगी, उनकी सेहत के लिए दुआ कीजिए।)
8. यही बात ख़ुशी के बारे में भी है। ब्लॉगर्स के जीवन में आने वाले ख़ुशी के लम्हों को भी यहां शेयर किया जाए ताकि ग़म की तारीकियों के दरम्यान ख़ुशियों के जुगनुओं की बारात भी यहां नज़र आए। 

ग़र्ज़ यह कि यह मात्र ऐसी चर्चा नहीं है जिसमें कि केवल लिंक का ही चर्चा हो बल्कि इसका कान्सेप्ट गोष्ठी, बैठक और चैपाल का है। एक ऐसे पारिवारिक समारोह का ख़याल है यह जिसमें हम एक दूसरे की भावनाओं को भी महसूस कर सकें। ब्लॉगर्स मीट अगर ब्लॉग पर ही आयोजित हो तो शामिल होना सबके लिए मुमकिन है।
‘ब्लॉगर्स मीट वीकली‘ के इस सिलसिले की पहली पेशकश सोमवार को मन्ज़रे आम पर आ रही है। आप सभी से सहयोग की आशा है।

कौन करेगा इस समारोह का संचालन ?
यह एक सस्पेंस है।
आपको यह ख़याल कैसा लगा ?
क्या इसे एक सकारात्मक और रचनात्मक काम का नाम दिया जा सकता है ?
फ़िलहाल तो आपसे इस पर राय देने की दरख्वास्त है।
यह समारोह इस मंच के द्वारा संचालित अवश्य है लेकिन यह समारोह है सारे ब्लॉग जगत का बल्कि सारे नेट जगत का। इसमें हरेक आमंत्रित है।
हरेक का सादर स्वागत है।

9 comments:

महेश बारमाटे "माही" said...

अनवर जी !
बहुत बढ़िया प्रयास है...

माफ़ी चाहूँगा क्योंकि मैं अभी ब्लॉग्गिंग से सम्बंधित कोई भी कार्य नहीं कर सकता... हर हफ्ते एक एक्साम है... और इस सिलसिले में हिंदी ब्लॉग्गिंग गाइड व ब्लॉग दुनिया से कोई सम्बन्ध रख नहीं पा रहा हूँ...

पिछले कुछ एक्साम के रिजल्ट ने मुझे काफी नाराज किया है, जिस कारन अगले एक्साम के लिए ज्यादा मेहनत करना चाहता हूँ...

बस आप सभी की दुआ चाहता हूँ कि मेरा कार्य सफल हो और जल्द ही मैं कोई नयी खुशखबरी ब्लॉग जगत को अपनी ओर से दे पाऊं...

और हाँ !
दुआ है कि रश्मि प्रभा जी जल्द ही हमारे बीच आयें..

Manish Kr. Khedawat said...

sunder prayas !
hamari dua aapke sath hai :)

devendra gautam said...

sarahniy

amrendra "amar" said...

Ham SAATH _SAATH hai.
aapka is safal prayas ke liye hardik badhai

वन्दना said...

बहुत ही उम्दा और नेक ख्याल है हमसे जो भी बन पडेगा करने के लिये तैयार हैं……………इंतज़ार है पहली मीट का।

Suman Dubey said...

बहुत अच्छा मंच है ए जुड़कर अच्छा लगा और मीट वीक्ली का ख्याल भी अच्छा है।

Neeraj Dwivedi said...

Bahut hi achha prayas hai. Ham manch ke sath hain.
Life is Just a Life
My Clicks
.

अख़तर क़िदवाई said...

बहुत ही उम्दा प्रयास है ,मेरी बधाई स्वीकार करें ,रश्मि जी स्वस्थ होकर शीघ्र अपने घर को लौटे ऐसी दुआ है

avanti singh said...

बधाईयाँ!! बहुत ही बढ़िया प्रयास है ,मैं आप के इस प्रयास का समर्थन करती हूँ,इस तरह के प्रयास की बहुत जरूरत है ,ईश्वर से प्रार्थना है के रश्मि जी शीघ्र स्वस्थ हों जाये ,यदि वे गौ मूत्र का सेवन कर पाए तो उस का किडनी पर बहुत बढिया असर देखा जाता है,अधिक जानकारी के लिए गौ मूत्र चिकित्सा के बारे में जाने

Read Qur'an in Hindi

Read Qur'an in Hindi
Translation

Followers

Wievers

Gadget

This content is not yet available over encrypted connections.

गर्मियों की छुट्टियां

अनवर भाई आपकी गर्मियों की छुट्टियों की दास्तान पढ़ कर हमें आपकी किस्मत से रश्क हो रहा है...ऐसे बचपन का सपना तो हर बच्चा देखता है लेकिन उसके सच होने का नसीब आप जैसे किसी किसी को ही होता है...बहुत दिलचस्प वाकये बयां किये हैं आपने...मजा आ गया. - नीरज गोस्वामी

Check Page Rank of your blog

This page rank checking tool is powered by Page Rank Checker service

Hindu Rituals and Practices

Technical Help

  • - कहीं भी अपनी भाषा में टंकण (Typing) करें - Google Input Toolsप्रयोगकर्ता को मात्र अंग्रेजी वर्णों में लिखना है जिसप्रकार से वह शब्द बोला जाता है और गूगल इन...
    4 years ago

हिन्दी लिखने के लिए

Transliteration by Microsoft

Host

Host
Prerna Argal, Host : Bloggers' Meet Weekly, प्रत्येक सोमवार
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Popular Posts Weekly

Popular Posts

हिंदी ब्लॉगिंग गाइड Hindi Blogging Guide

हिंदी ब्लॉगिंग गाइड Hindi Blogging Guide
नए ब्लॉगर मैदान में आएंगे तो हिंदी ब्लॉगिंग को एक नई ऊर्जा मिलेगी।
Powered by Blogger.
 
Copyright (c) 2010 प्यारी माँ. All rights reserved.